हेल्पलाइन: +91-956 852 4734
  • Breaking News

ताज़ा
खबरे

  • पंतनगर की मीना पाण्डे को मिला शिक्षा शिरोमणि सम्मान
  • शांतिपुरी में हंस फाउण्डेशन ने किया 86 लोगों का उपचार
  • सीएबीएम का सात दिवसीय आॅनलाइन इंडक्शन प्रोग्राम संपन्न
  • पंतनगर की डाॅ. राधा वाल्मीकि को शिक्षा शिरोमणि सम्मान
  • पंतनगर की डाॅ. राधा वाल्मीकि को शिक्षा शिरोमणि सम्मान
  • डाॅ. केसरवानी को सर्वश्रेष्ठ शिक्षक सम्मान

ख़बरें विस्‍तार से

Exclusive-पंचायत चुनाव -इस युवा ने दिखाया बड़ी - बड़ी राजनीतिक पार्टियों को आयना-

  Publish Date: Oct 21 2019 3:37PM IST
टैग्स:

Image

कहते हैं राजनीति किसी की बपौती नहीं होती और यह साबित कर दिखाया है गौलापार आमखेड़ा चोरगलिया जिला पंचायत सीट पर एक युवा ने, जिसने न सिर्फ सामाजिक क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित किए बल्कि अपने सामाजिक सोच की वजह से अपने क्षेत्र की बड़ी-बड़ी समस्याओं को भी कानूनी रूप से हल किया। इसी का नतीजा रहा कि आज कांग्रेस और भाजपा जैसी राष्ट्रीय पार्टियों के कद्दावर उम्मीदवारों को भी इस युवा के आगे हार माननी पड़ी।

Image


आरटीआई एक्टिविस्ट रवि शंकर जोशी पड़े कांग्रेस-भाजपा पर भारी-

आमखेड़ा चोरगलिया जिला पंचायत सीट पर पूर्व ब्लाक प्रमुख रही संध्या डालाकोटी कांग्रेस के टिकट पर जिला पंचायत चुनाव लड़ रही थी। इसके अलावा पूर्व में महिला मोर्चा की भाजपा की अध्यक्ष रही ममता कार्की भारतीय जनता पार्टी के सिंबल में चुनाव लड़ रही थी, दोनों बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों के कद्दावर नेताओं के बीच आरटीआई एक्टिविस्ट रवि शंकर जोशी की पत्नी निवेदिता जोशी ने अपनी पत्नी निवेदिता जोशी को मैदान पर उतारा था। कहते हैं कि संघर्ष का फल मीठा होता है और यह गौलापार चोरगलिया क्षेत्र के लिए आरटीआई एक्टिविस्ट रवि शंकर जोशी का किया गया संघर्ष उसे इस सुखद परिणाम तक लाया कि उनकी पत्नी निवेदिता जोशी कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों को बुरी तरह से परास्त करने में सफल रही।

ImageImage


चुनाव लड़ने वालों के लिए रवि शंकर जोशी और निवेदिता जोशी आईना-

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सीट के लिए जब कद्दावर नेता आपस में चुनाव लड़ रहे हो तो समझा जा सकता है की चुनाव प्रचार कितना व्यापक रहा होगा। ऐसा ही चोरगलिया आमखेड़ा जिला पंचायत सीट पर भी कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों द्वारा किया गया था। लेकिन निवेदिता जोशी के चुनाव प्रचार में न तो कहीं हार्डिंग दिखे थे और ना ही कहीं पंपलेट न हीं कहीं शराब का जिक्र था और नहीं कहीं मांस मदिरा की पार्टी। अपने वादे और इरादों को लेकर जनता के बीच में रवि शंकर जोशी और निवेदिता जोशी ने अपील की थी जिसे गौलापार चोरगलिया आमखेड़ा की जनता ने सहर्ष स्वीकार किया और उन्हें जिला पंचायत सदस्य का ताज पहनाया।

ImageImage

कांग्रेस और भाजपा के कद्दावर नेताओं ने भी झोंकी थी ताकत- 

कांग्रेस से संध्या डालाकोटी के प्रचार में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने भी क्षेत्र में प्रचार कर कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाया था। वहीं दूसरी तरफ भाजपा प्रत्याशी ममता कार्की के पक्ष में न सिर्फ विधायक नवीन दुम्का ने ताकत झोंकी थी, बल्कि प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट भी गौलापार चोरगलिया में ममता कार्की के लिए वोट मांग रहे थे। लेकिन जनता ने  इन दोनों राष्ट्रीय पार्टियों को किनारे करते हुए। एक युवा पर अपना भरोसा जताया, और निर्दलीय निवेदिता जोशी ने 1154 वोटों से संध्या डालाकोटी को हराया और भाजपा की ममता कार्की तीसरे नंबर पर रही।

ImageImageImage

रिपोर्टर

अगली प्रमुख खबरे

आप का कोना